Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Wednesday, 12 August 2015

मदर डेयरी के दूध में मिला डिटरजेंट -

गाजियाबाद। अमूल के बाद अब मदर डेयरी के दूध में डिटरजेंट की मिलावट पाई गई है। कंपनी के टोंड और फुल क्रीम मिल्क में डिटरजेंट पाउडर मिला। दोनों सैंपल मदर डेयरी बूथ से लिए गए थे। कंपनी के अनुरोध पर इनकी जांच कोलकाता सेंट्रल लैब में कराई गई थी। फूड सेफ्टी विभाग ने इसकी जानकारी डीएम को दे दी है।
विभाग के डीओ विनीत कुमार सिंह ने बताया कि मदर डेयरी के गोविंदपुरम एच ब्लॉक स्थित बूथ से 11 जनवरी 15 को फुल क्रीम और लोनी सौ फुटा रोड से 30 जनवरी 15 को टोंड मिल्क का सैंपल लिया गया था। स्टेट लैब की रिपोर्ट में दोनों नमूनों में लो फैट मिला था। मदर डेयरी ने इसे चैलेंज करते हुए फिर से दूध का परीक्षण कराने की मांग की थी। दोनों सैंपल कोलकाता सेंट्रल टेस्ट लैब भेजे गए थे। मंगलवार को इसकी रिपोर्ट मिली। दूध में बड़ी मात्रा में डिटरजेंट पाउडर और फ्रोजन फैट मिली है।
सरसों के तेल में मिलावट पर छह माह की कैद
अमरोहा (ब्यूरो)। अदालत ने एक दुकानदार को सरसों के तेल में मिलावट करने पर छह माह की कैद और एक हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। दुकानदार को पुलिस कस्टडी में जेल भेज दिया गया है। खाद्य निरीक्षक मदन मोहन कलांडी ने चार दिसंबर 1993 को नौगावां सादात थाना क्षेत्र के गांव कुंडा जब्दी में कृष्णवीर पुत्र थान सिंह की दुकान से सरसों के तेल का नमूना लिया था। दुकानदार खाद्य तेल बेचने का लाइसेंस भी नहीं दिखा सका था। खाद्य निरीक्षक ने नमूना जांच के लिए लखनऊ लैब भेज दिया था।
लोनी और गोविंदपुरम क्षेत्र से जनवरी 2015 में लिए गए थे सैंपल

No comments:

Post a Comment