Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Thursday, 20 August 2015

बीटीसी 2014-15- शिक्षक बनने को एक सीट पर 11 दावेदार -

इलाहाबाद-प्रदेश में 72 हजार शिक्षकों की भर्ती का जादू सिर चढ़कर बोल रहा है। शायद यही वजह है कि युवा शिक्षक बनने के लिए ताबड़तोड़ आवेदन कर रहे हैं। बीटीसी 2014-15 का प्रशिक्षण पाने लिए तय समय सीमा में इतने आवेदन हुए हैं कि आंकड़ा एक सीट पर ग्यारह दावेदार का हो गया है। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने बीटीसी 2014-15 में दाखिले के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगे थे। इसमें तय समयावधि में युवाओं ने बढ़-चढ़कर दावेदारी की है। सचिव परीक्षा नियामक कार्यालय का दावा है कि करीब छह लाख आवेदन आए हैं जबकि प्रदेशभर में बीटीसी प्रशिक्षण की सीटें पचास हजार से अधिक हैं। इसमें 63 जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थानों (डायट) में 50 से 200 तक, 709 निजी कालेजों में 50-50, 80 अल्पसंख्यक बीटीसी कालेजों में भी 50-50 सीटें हैं। साथ ही 181 बीटीसी कालेजों के संबद्धता का प्रस्ताव शासन में लंबित हैं उस पर भी मुहर लगना लगभग तय है। ऐसे में इन कालेजों में भी 50-50 सीटें ही होंगी। इन कालेजों की कुल संख्या 50 हजार से अधिक पहुंचती है। कम सीटें और बड़ी तादात में युवाओं के आवेदन होने पर यह तय है कि चयन का आधार मेरिट ही बनेगी। 

सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी नीना श्रीवास्तव ने बताया कि जो आवेदन मिले हैं उन्हें ऑनलाइन दुरुस्त किया जा रहा है। मसलन, यदि आवेदकों के नाम, जन्मतिथि या फिर पता आदि की कोई भी गड़बड़ी है तो वह 24 अगस्त तक ठीक की जाएगी। इसके बाद प्रदेशभर के सभी 75 जिलों के दावेदारों की लिस्ट अवरोही क्रम में बनाकर एनआइसी को सौंप दी जाएगी।

No comments:

Post a Comment