Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Saturday, 4 July 2015

विशेष बच्चों के लिए भर्ती होंगे स्पेशल एजुकेटर -

  • पहले चरण में रखे जाएंगे 498 एजुकेटर
  • हर महीने मिलेगा 25 हजार रुपये मानदेय
लखनऊ। इंटीग्रेटेड एजुकेशन फॉर डिसेबल सेकंडरी स्टेज (आईईडीएसएस) योजना में विशेष बच्चों को शिक्षित करने के लिए जिलों में स्पेशल एजुकेटर रखे जाएंगे। प्रदेश के 48 जिलों में 7-7 और 27 जिलों में 6-6 स्पेशल एजुकेटर की भर्तियां होंगी। प्रदेशभर में कुल 498 एजुकेटर रखे जाएंगे। भर्ती होने वालों को हर माह 25,000 रुपये मानदेय दिया जाएगा। भर्ती के लिए बीएड विशेष डिग्रीधारकों को पात्र माना जाएगा। राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना निदेशालय ने शासन को प्रस्ताव भेज दिया है। उच्चाधिकारियों की बैठक में सहमति के बाद शासनादेश जारी किया जाएगा।
केंद्र सरकार ने बेसिक शिक्षा की तर्ज पर विशेष बच्चों कक्षा 9 से इंटर तक की मुफ्त शिक्षा देने के लिए आईईडीएसएस योजना शुरू की है। जिलों में बेसिक शिक्षा अधिकारियों से ऐसे बच्चों की सूची प्राप्त कर राजकीय व सहायता प्राप्त इंटर कॉलेजों में दाखिला दिलाया जाएगा। बच्चों को स्कूलों में दाखिला दिलाने के लिए कैंप भी लगाए जाएंगे। पहले चरण में प्रदेश के 35 जिलों में यह योजना शुरू की गई थी, अब प्रदेशभर के सभी जिलों में इस योजना का संचालन हो रहा है। 
केंद्र ने प्रत्येक 10 छात्र-छात्राओं पर एक संविदा के आधार पर स्पेशल एजुकेटर रखने की व्यवस्था दी है। इसके आधार पर जुलाई में प्रदेश में 498 स्पेशल एजुकेटर रखे जाएंगे। जिलों में जिलाधिकारियों की अध्यक्षता में चयन समिति बनाई जाएगी और इसका सदस्य सचिव डीआईओएस होगा। इनका चयन 11 माह के लिए किया जाएगा चयनितों को ऐसे बच्चों की सूची सौंपी जाएगी और वे बच्चों को शिक्षित करेंगे। इनके कार्यों को देखते हुए इनका नवीनीकरण किया जाएगा।

1 comment:

  1. आरक्षण समाप्त करें या सभी वर्गों को करें शामिल : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    शिक्षामित्र केस लखनऊ खंडपीठ आज का आर्डर : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    आज की कोर्ट कार्यवाही का विवरण : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    यूपी में खत्म होंगे शिक्षक भर्ती के विवाद : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    1 जुलाई 2015 प्राथमिक शिक्षकों का न्यूनतम वेतन : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    क्रियात्मक प्रशिक्षण पूरा न करने वालों को वापस भेजा स्कूल : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    2004 का मानदेय वाला शासनादेश बदला , अपनी गर्दन बचा रही सरकार : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    प्रशिक्षुओं के मानदेय भुगतान का रास्ता साफ : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    01 July की वीडिओ कॉन्फ़्रेंसिंग का सार : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    बगैर टीईटी पास अध्यापकों पर मंडरा रहे संकट के बादल : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    शिक्षकों के बढ़ेंगे 22 हजार पद : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    शिक्षा मित्रों को शिक्षक बनाने में कम पड़े 16 जिलों में पद : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    प्रशिक्षु शिक्षकों के अभी भी 14 हजार पद खाली : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News
    टीईटी में व्हाइटनर पर सरकार से जवाब तलब : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

    ReplyDelete