Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Monday, 1 June 2015

सहायक अध्यापक बन गए पर नहीं भरी जेब -

  • समायोजित शिक्षामित्रों को न मानदेय मिल रहा, न वेतन

Click here to enlarge image
इलाहाबाद : लंबे संघर्ष के बाद सरकार ने शिक्षामित्रों का समायोजन अध्यापक पद पर तो करा लिया, लेकिन उन्हें न तो शिक्षामित्र का मानदेय मिल रहा है, न सहायक अध्यापक का वेतन। तर्क दिया जा रहा है कि प्रमाणपत्रों का सत्यापन न होने से मामला अटका है। परिषदीय स्कूलों में शिक्षामित्रों को प्रशिक्षित करके समायोजित करने की कवायद की जा रही है। अगस्त 2014 को हुए प्रथम चरण में प्रदेशभर में 62 हजार शिक्षामित्रों का समायोजन हुआ। मंडल में इलाहाबाद के 1445, फतेहपुर के 945, कौशांबी के 564 और प्रतापगढ़ के 1100 के लगभग शिक्षामित्र समायोजित हुए। इसमें इलाहाबाद में 1200, फतेहपुर में 345, कौशांबी में 164 एवं प्रतापगढ़ में 111 सहित प्रदेशभर में दस हजार के लगभग शिक्षामित्रों को वेतन नहीं मिल रहा। वहीं द्वितीय चरण में प्रदेशभर में 60 हजार के लगभग शिक्षामित्रों का समायोजन मई माह में हुआ। इसमें किसी को वेतन नहीं जारी हुआ। उचित विभागीय पैरवी न होने से शिक्षामित्रों का मामला संबंधित विश्वविद्यालय एवं बोर्ड आफिस में फंसा है। उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के जिलाध्यक्ष वसीम अहमद का कहना है शिक्षामित्रों के प्रमाणपत्रों के सत्यापन की समयावधि तय होनी चाहिए, जो शिक्षामित्र सहायक अध्यापक बन चुके हैं, उन्हें जल्द वेतन जारी किया जाए। वहीं बेसिक शिक्षा अधिकारी राजकुमार का कहना है जिन समायोजित शिक्षकों का सत्यापन आ रहा है, उनकी नियुक्ति की जा रही है।

No comments:

Post a Comment