Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Monday, 27 April 2015

झांसी व फतेहपुर के बीएसए हटाये गए -

लखनऊ : शासन ने झांसी और फतेहपुर के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों (बीएसए) के खिलाफ शिकायतें मिलने पर उन्हें हटा दिया है। निलंबित किए गए बीएसए धर्मेंद्र सक्सेना को बहाल कर दिया गया है। झांसी के बीएसए राजेश कुमार सिंह के खिलाफ वहां के जिलाधिकारी ने कार्यालय में शिथिल पर्यवेक्षण और नियंत्रण की शिकायत करते हुए शासन से उन्हें हटाने की मांग की थी। जिलाधिकारी की मांग पर उन्हें हटाकर जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान बुलंदशहर में वरिष्ठ प्रवक्ता के पद पर तैनात किया गया है। वहीं फतेहपुर के बीएसए ओपी त्रिपाठी के खिलाफ शिकायतें मिलने पर शासन ने उप शिक्षा निदेशक लखनऊ से उनकी जांच करायी थी। जांच में शिकायतें सही पाये जाने पर उन्हें बीएसए पद से हटाते हुए बेसिक शिक्षा निदेशालय से संबद्ध कर दिया गया है। उनके खिलाफ अनुशासनिक जांच भी शुरू कर दी गई है। निलंबित किये गए सीतापुर के पूर्व बीएसए धर्मेंद्र सक्सेना के खिलाफ भी शासन ने उप शिक्षा निदेशक लखनऊ उदयभान से विभागीय जांच करायी थी। जांच में दोषी न पाये जाने पर शासन ने सक्सेना को बहाल कर दिया है। इस मामले में सीतापुर के तत्कालीन सीडीओ पर लगे आरोपों की जांच मंडलायुक्त लखनऊ कर रहे हैं।

No comments:

Post a Comment