Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Thursday, 23 April 2015

शिक्षक भर्ती में गड़बड़ी मिली तो नपेंगे अधिकारी -

  • अभिलेखों में हेराफेरी की शिकायतें मिलने पर बेसिक शिक्षा मंत्री ने चेताया
  • कहा, विभागाध्यक्ष व अधिकारियों के खिलाफ होगी एफआइआर

लखनऊ : बेसिक शिक्षा मंत्री राम गोविंद चौधरी ने विभागीय अधिकारियों को चेताया है कि यदि परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती में गड़बड़ी मिली तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा है कि यदि नियुक्ति में अभ्यर्थी की अंकतालिका और अभिलेख के बारे में किसी किस्म की गड़बड़ी का पता चला तो इसकी पूरी जिम्मेदारी संबंधित विभागाध्यक्ष और अधिकारियों की होगी। उन्हें दोषी मानते हुए उनके खिलाफ एफआइआर दर्ज कराकर कठोरतम कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा है कि प्रशिक्षु शिक्षकों के चयन में पूरी पारदर्शिता बरती जाए। चयन प्रक्रिया व काउंसिलिंग में कोई अनियमितता नहीं होनी चाहिए। शासन के संज्ञान में यह बात आयी है कि कुछ अभ्यर्थियों द्वारा शिक्षक पात्रता परीक्षा की फर्जी अंकतालिका के आधार पर नियुक्ति पाने की कोशिश की जा रही है। ऐसे मामले सामने आने पर अभ्यर्थियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराकर कार्रवाई की जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि अभ्यर्थियों द्वारा काउंसिलिंग के समय उपलब्ध करायी गई टीईटी अंकतालिका व अन्य अभिलेखों का गंभीरता से परीक्षण कराकर ही नियुक्ति पत्र जारी किए जाएं।

No comments:

Post a Comment