Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Wednesday, 22 April 2015

किताब न कैलेंडर, सेशन हो गया शुरू, जुलाई तक भी किताबें मिलना मुश्किल :

  • किताब न कैलेंडर, सेशन हो गया शुरू, 
  • जुलाई तक भी किताबें मिलना मुश्किल 
  • अभी सिर्फ टेक्निकल बिड ही हुई, 
  • फाइनेंशियल बिड अभी तक नहीं
  • ऐसे में चार महीने का वक्त छपाई में औरलग सकता 
प्राइमरी स्कूलों का नया सत्र कागजों पर ही शुरू हुआ है। एक अप्रैल से सत्र शुरू करने की घोषणा तो कर दी गई लेकिन खुद विभाग अभी तक नए सत्र के अनुसार अपना शैक्षिक कैलेंडर भी तैयार नहीं कर पाया है। तिमाही, छमाही और वार्षिक परीक्षाएं कब से होंगीं, कुछ भी अभी तय नहीं है। बच्चों को नई किताबें तीन महीने पहले मिल जानी चाहिए थीं लेकिन इस बार पहले के मुकाबले किताबों का वितरण और लेट होता जा रहा है।
किताबों के लिए पिछले वर्षों में मार्च तक पुस्तक नीति जारी हो जाती थी और उसके बाद छपाई की प्रक्रिया शुरू हो जाती थी। तब जुलाई तक किताबें बच्चों को मिल पाती थीं। इस साल तो पुस्तक छपाई की प्रक्रिया और लेट हो गई है। एक बार टेंडर स्थगित करने के बाद दोबारा फिर जारी किया गया। अभी सिर्फ टेक्निकल बिड ही हुई है। फाइनेंशियल बिड ही अभी तक नहीं हो पाई है। ऐसे में चार महीने का वक्त छपाई में और लग जाएगा। इस बार अप्रैल में बच्चों को किताबें देनी थीं लेकिन वह जुलाई में भी नहीं मिल पाएंगीं। फिलहाल बेसिक शिक्षा सचिव एचएल गुप्ता ने पुरानी किताबें ही बंटवाने के आदेश दे दिए हैं। जब नई किताबें आंएगी तो वह बच्चों को बंटवा दी जाएंगी।

No comments:

Post a Comment