Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Tuesday, 10 February 2015

निजी स्कूलों में बीएसए दाखिले को मांगेंगे आवेदन -

  • 6 मंडल मुख्यालय वाले 18 जिलों में 199 नगरीय वार्ड असेवित मिले, 
  • आज बैठक में सौंपा जाएगा विज्ञापन का प्रारूप
  • गरीबों की खातिर

लखनऊ : शहरी क्षेत्रों के असेवित क्षेत्रों में गरीब बच्चों को पड़ोस के मान्यताप्राप्त निजी स्कूलों में दाखिले की मुहिम अब जोर पकड़ेगी। अभी तक गरीब बच्चों के माता पिता को खुद बीएसए कार्यालय में इसके लिए आवेदन करना होता था। अब शहरी असेवित क्षेत्रों में बीएसए विज्ञापन प्रदर्शित कर गरीब अभिभावकों से अपने बच्चों का निजी स्कूलों में दाखिला कराने के लिए आवेदन आमंत्रित करेंगे। 1निदेशक बेसिक शिक्षा ने सभी बीएसए को शहरी इलाकों के असेवित वाडरें को चिह्न्ति करने का निर्देश दिया था। फिलहाल बेसिक शिक्षा निदेशालय को विभिन्न जिलों से जो सूचना मिली है उसके आधार पर मंडल मुख्यालय वाले 18 जिलों में 199 ऐसे असेवित नगरीय वार्ड चिह्न्ति किए गए हैं जिनमें सरकारी, परिषदीय या अशासकीय सहायताप्राप्त प्राथमिक स्कूल नहीं हैं। इनमें लखनऊ में 34, कानपुर नगर में 25, फैजाबाद में 31, झांसी में 30, मेरठ में 19, अलीगढ़ में 21, बरेली में तीन, इलाहाबाद में चार, वाराणसी में चार, मीरजापुर में दो, गोरखपुर में तीन, मुरादाबाद में 23 असेवित वार्ड चिह्न्ति किए गए हैं। चित्रकूट, आजमगढ़, गोंडा, बस्ती और सहारनपुर के बीएसए ने सूचित किया है कि उनके जिले में कोई असेवित वार्ड नहीं है। आगरा के बीएसए ने पहले सूचित किया था कि वहां शहरी क्षेत्र में 21 वार्ड असेवित हैं लेकिन बाद में उन्होंने इसे शून्य करार दिया है। बुधवार को राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद में जिला बेसिक अधिकारियों की बैठक वैसे तो परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती के सिलसिले में बुलायी गई है। बैठक में सभी बीएसए को इस विज्ञापन का प्रारूप भी थमाया जाएगा।  शिक्षा के अधिकार कानून के तहत गरीब बच्चों को पड़ोस के मान्यताप्राप्त निजी स्कूलों में दाखिला दिलाने के लिए प्रदेश में भी व्यवस्था है। व्यवस्था यह है कि बीएसए द्वारा यह पाये जाने पर कि इन श्रेणियों के बच्चों को पड़ोस के राजकीय/परिषदीय या सहायताप्राप्त स्कूल में सीटों के अभाव में दाखिला नहीं मिल पा रहा है तो ऐसे बच्चों को निजी असहायतित स्कूलों की कक्षा एक की 25 प्रतिशत सीटों पर प्रवेश दिलाना होगा। दाखिले में उन बच्चों वरीयता दी जाएगी जिनके माता-पिता या अभिभावक की वार्षिक आय 35,000 रुपये से कम होगी।

2 comments:

  1. दोपहर समाचार - ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - 11 Feb 2015

    40 शिक्षामित्रों के प्रमाणपत्रों का फर्जी सत्यापन : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News 11/02/2015

    परिषदीय छात्रों को भी स्काउट-गाइड प्रशिक्ष्‍ाण्‍ा , तैयार की गई रूपरेखा : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News 11/02/2015

    अतिथि शिक्षकों के नियमितीकरण पर बैठक 23 को : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News 11/02/2015

    जिनकी हुई काउंसिलिंग, उन्हें दें नियुक्ति पत्र : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News 11/02/2015

    22 सौ टीचर बनेंगे कक्ष निरीक्षक : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News 11/02/2015

    Varansi Updates : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News 11/02/2015

    3rd Merit after Govt Order : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News 11/02/2015

    काउंसलिंग करा चुके अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र दे सरकारः हाईकोर्ट

    UPTET News from News papers : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News 11/02/2015

    कोर्ट के निर्देशों के अनुरूप हो शिक्षक भर्ती प्रक्रिया : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News 11/02/2015

    सीतापुर updates - 2888 अभ्यर्थियों को आज बंटेंगे लेटर : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News 11/02/2015

    आज होगी प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती की समीक्षा सभी को नहीं मिले नियुक्ति पत्र

    59 फर्जी लोगों पर हो सकती है कार्यवाही : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News 11/02/2015

    ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - 11 Feb 2015

    ReplyDelete
  2. Pl submit Email ID / Don't forget to Verify Email by Click Link in your Inbox Subscribe & verify Email ID - for all FREE alerts

    मॉडल स्कूलों में प्रधानाचार्य के लिए आवेदन कल से , ऑनलाइन लिए जाएंगे आवेदन

    वकीलों की हड़ताल समाप्त : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

    ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - 17 Feb 2015

    राहगीरों से मांगी भीख, किए जूते पॉलिश : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

    डायट कर्मियों की गलती का खामियाजा भुगत रही पूनम : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

    टीईटी प्रमाण पत्रों का वितरण 18 से : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

    टीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों ने किया प्रदर्शन : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

    यूजीसी नेट परीक्षा की आंसर-की ऑनलाइन

    फिर हो सकती है इतिहास की परीक्षा , अभ्यर्थियों ने की बोर्ड के अध्यक्ष से मुलाकात

    मनरेगा के मजदूर नहीं, सम्मानजनक मानदेय जल्द

    प्रशिक्षण संबंधित शासनादेश : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

    पूर्ण समायोजन को टीईटी अभ्यर्थियों का प्रदर्शन : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

    7000 लेखपालों की भर्ती अगले महीने से , राजस्व परिषद को सौंपा जिम्मा

    शिक्षक भर्ती : अब बीएसए स्तर से भरे जाएंगे पद : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

    School Timing Change : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

    ReplyDelete