Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Thursday, 1 January 2015

सर्व शिक्षा के संविदा शिक्षकों व कर्मियों का बढ़ेगा मानदेय-

  • मानदेय के अंतर को किया जाएगा समाप्त
लखनऊ। सर्व शिक्षा अभियान में रखे गए उर्दू के अंशकालिक शिक्षक हो या कस्तूरबा गांधी विद्यालय के अंशलिक शिक्षक इनके मानदेय की खामियां दूर करते हुए इसे बढ़ाया जाएगा। इसी तरह जिलों में रखे गए मैनेजमेंट एजुकेशनल सिस्टम (एमईएस) इंचार्ज तथा कंप्यूटर ऑपरेटर व लिपिकों के मानदेय का अंतर भी समाप्त किया जाएगा। सर्व शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना निदेशालय के प्रस्ताव पर मुख्य सचिव आलोक रंजन ने सहमति देते हुए समिति बनाकर एक माह में रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा है।
सर्व शिक्षा अभियान के तहत उर्दू के पूर्णकालिक व अंशकालिक शिक्षक रखे गए हैं। केंद्र सरकार पहले इन शिक्षकों को मानदेय देने के लिए एकमुश्त पैसा देती थी और परियोजना निदेशालय मानदेय अपने हिसाब से तय करता था। इसके आधार पर पूर्णकालिक व अंशकालिक शिक्षकों को 12,000 रुपये देती थी। केंद्र ने विगत वर्ष पूर्णकालिक शिक्षकों का मानदेय 20,000 रुपये कर दिया और अंशकालिक शिक्षकों को 12,000 ही मिलता रहा। इससे अंशकालिक शिक्षक भी एक समान काम के एवज में 20,000 रुपये प्रतिमाह मानदेय की मांग करने लगे। परियोजना निदेशालय चाहता है कि अंशकालिक उर्दू शिक्षकों को भी 20,000 रुपये प्रतिमाह मानदेय मिले।
इसी तरह कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में कार्यरत अशंकालिक शिक्षकों को पहले 7200 मिलता था जिसे केंद्र ने कम करते हुए 5000 कर दिया। परियोजना निदेशालय चाहता है कि राज्य सरकार अपने खर्च पर इन्हें पूर्व की तरह 7200 रुपये प्रतिमाह मानदेय दे। इसके अलावा जिलों में तैनात एमईएस इंचार्ज के मानदेय की खामियां भी दूर करते हुए इन्हें 19,775 के स्थान पर 22,460 देने तथा परियोजना निदेशालय में कार्यरत कंप्यूटर ऑपरेटर, लिपिक स्टेनो के मानदेय की खामियां दूर करने का प्रस्ताव है।
समिति एक माह में देगी रिपोर्ट
मुख्य सचिव के निर्देश पर सर्व शिक्षा अभियान की राज्य परियोजना निदेशक की अध्यक्षता में गठित होने वाली समिति सभी बिंदुओं पर परीक्षण करने के बाद एक माह में रिपोर्ट देगी। इसमें बेसिक शिक्षा निदेशक के अलावा वित्त नियंत्रक सर्व शिक्षा अभियान भी होंगे। समिति की रिपोर्ट पर मुख्य सचिव अंतिम निर्णय करेंगे। कुमुदलता श्रीवास्तव, निदेशक सर्व शिक्षा अभियान, राज्य परियोजना।
संविदा के तीन नए पद
राज्य परियोजना निदेशालय में संविदा के तीन नए पद बनाए जा रहे हैं। डाटा एडमिनिस्ट्रेटर को 60,000 रुपये प्रतिमाह मानदेय पर रखा जाएगा। इसके लिए बीई कंप्यूटर व एमसीए के साथ छह साल का अनुभव जरूरी होगा। इसी तरह सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर एक पद होगा और इसे 50,000 रुपये प्रतिमाह मानदेय दिया जाएगा। इसके लिए भी बीई कंप्यूटर व एमसीए अनिवार्य होगा। इसके अलावा सीनियर प्रोग्रामर रखा जाएगा जिसे 35,000 रुपये महीने दिया जाएगा। योग्यता एक समान होगी बस अनुभव तीन साल का कर दिया गया है।

No comments:

Post a Comment