Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Saturday, 11 October 2014

प्रशिक्षु शिक्षकों की तीसरी काउंसलिंग तीन नवंबर से

लखनऊ । प्राथमिक विद्यालयों में 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की तीसरी काउंसलिंग तीन नवंबर से 12 नवंबर के बीच होगी। इस बार 20 गुना अभ्यर्थियों को बुलाया गया है। अभी तक दो चरणों की काउंसलिंग में 54 फीसदी सीटें ही भरी हैं।
प्रशिक्षु शिक्षकों के आवेदन के आधार पर की गई डाटा फीडिंग की त्रुटियों को 15 अक्तूबर से 21 अक्तूबर से बीच ऑनलाइन संशोधन किया जाएगा। इस संशोधन के बाद तीसरी काउंसलिंग की जाएगी। इस बार विशेष क्षैतिज आरक्षण वर्ग में 20 गुना अधिक अभ्यर्थी बुलाए जा रहे हैं। जबकि अन्य श्रेणियों में 10 गुना अभ्यर्थियों को बुलाया जा रहा है।

2 comments:

  1. sir, agar 2nd counselling me selected candiates ki list ho to post kar dijiye..

    thanx in advance...

    ReplyDelete
  2. sir, jrt se prt me councelling karane ka order gov. ke dwara jari kiya gaya hai to please order post kar dijiye sir ji...........

    ReplyDelete