Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Monday, 22 September 2014

प्रशिक्षु शिक्षक मेरिट में तमाम खामियॉ, अभ्‍यर्थियो ने किया प्रदर्शन -

  • शिक्षा मित्रों के कटऑफ पर भी सवालिया निशान
  • निदेशक ने खामियां ठीक कराने का आश्वासन दिया
लखनऊ (ब्यूरो)। प्राइमरी स्कूलों में 72,825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती के लिए जारी की गई दूसरी मेरिट को लेकर हायतौबा मच गई है। अभ्यर्थियों ने सोमवार को राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) पर जमकर हंगामा किया। उनका आरोप है कि मेरिट जारी कर समय से प्रत्यावेदनों पर विचार नहीं किया। यहीं नहीं, शिक्षा मित्रों को 83 अंक होने पर भी काउंसलिंग के लिए बुला लिया गया है। टीईटी में सामान्य वर्ग को 90 और आरक्षित वर्ग को 83 अंक पर पास माना गया है, जबकि दूसरे कटऑफ में शिक्षा मित्रों की मेरिट 83 गई है। इसलिए एससीईआरटी को स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। एससीईआरटी के निदेशक सर्वेंद्र विक्रम सिंह ने आश्वासन दिया है कि जो भी खामियां होंगी उसे ठीक कराया जाएगा।
प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती के लिए रविवार को दूसरी मेरिट जारी की गई। इस पर हायतौबा मच गई है। एससीईआरटी पर सुबह से ही अभ्यर्थियों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। अभ्यर्थियों से पहले कहा गया कि निदेशक शाम को चार बजे मिलेंगे। अभ्यर्थी दिनभर वहां डटे रहे। शाम को जब निदेशक ने मिलने में आनाकानी की तो हंगामा शुरू हो गया।
हरदोई से आए प्रवीण कुमार का आरोप है कि उन्होंने कला वर्ग में आवेदन किया था लेकिन उनका नाम पहली मेरिट में विज्ञान वर्ग में आ गया। डायट पर आवेदन देने के बाद उनकी काउंसलिंग करते हुए प्रमाण पत्र जमा करा लिए गए। रविवार को जब दूसरी मेरिट आई तो इसमें भी उनका नाम है। उन्होंने कहा, एससीईआरटी ने खामियों को ठीक नहीं किया है। इसी तरह संतकबीर नगर से आए सुनील कुमार और बस्ती के राजेश चौधरी ने भी आरोप लगाया है। उनका कहना है कि एससीईआरटी ने प्रत्यावेदनों का निस्तारण किए बिना ही दूसरी मेरिट जारी कर दी है। इसमें तमाम खामियां हैं।


No comments:

Post a Comment