Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Friday, 5 September 2014

यूपी में प्राथमिक शिक्षा कमजोर : राहुल कहा, बच्चों को बनाएं बेहतर इंसान

अमेठी (ब्यूरो)। कांग्रेस उपाध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में प्राथमिक शिक्षा बहुत कमजोर है। इसको और गुणवत्तापरक बनाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि शिक्षक बच्चों को न केवल काबिल बल्कि एक बेहतर इंसान भी बनाने पर जोर दें। राहुल शुक्रवार को एएच इंटर कॉलेज में आयोजित एक शिक्षक सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे।
सांसद ने कहा कि सभी कहते हैं कि बच्चे देश के भविष्य हैं। यह बात मैं भी मानता हूं। हमारे बच्चे पूरी दुनिया में अपना जोश दिखा सकते हैं। देश को आगे बढ़ाने के लिए ऊर्जा की जरूरत है लेकिन केवल इससे काम नहीं चलेगा। इसके लिए लक्ष्य व सही दिशा निर्देशन की जरूरत होती है। यह कार्य हमारे गुरुजन ही कर सकते हैं। बच्चों को इंजीनियर, साइंटिस्ट और डॉक्टर बनाया जा सकता है लेकिन सिर्फ इससे देश आगे नहीं बढ़ेगा।
देश को आगे बढ़ाने के लिए बच्चों को एक बेहतर इंसान की भी जरूरत होती है। गांधी जी को मैं गुरु मानता हूं। गांधी जी तथा हिटलर दोनों में ऊर्जा थी। सही लक्ष्य की वजह से गांधी जी ने देश को संवारा, वहीं हिटलर से पूरी दुनिया का नुकसान हुआ। इस मौके पर उन्होंने सेवानिवृत्त 34 शिक्षकों को सम्मानित किया।



No comments:

Post a Comment