Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Thursday, 11 September 2014

अब पुरस्कार प्राप्त शिक्षकों को 5 साल का सेवा विस्तार

लखनऊ। माध्यमिक शिक्षा विभाग के राष्ट्रीय व राज्य अध्यापक पुरस्कार प्राप्त शिक्षकों को अब दो साल के स्थान पर पांच साल का सेवा विस्तार दिया जाएगा। यह लाभ अगले सत्र में पुरस्कार पाने वाले शिक्षकों को मिलेगा। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने माध्यमिक शिक्षा विभाग के इस प्रस्ताव पर सहमति दे दी है। माध्यमिक शिक्षा विभाग के राष्ट्रीय व राज्य अध्यापक पुरस्कार प्राप्त शिक्षकों को अब दो साल के बजाय पांच साल का सेवा विस्तार दिया जाएगा। यह लाभ अगले सत्र से पुरस्कार पाने वाले शिक्षकों को मिलेगा। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने माध्यमिक शिक्षा विभाग के इस प्रस्ताव पर सहमति दे दी है। इसे शीघ्र ही मंजूरी के लिए कैबिनेट के समक्ष रखा जाएगा। सरकार का मानना है कि इन शिक्षकों को सेवा विस्तार मिलने के बाद इनका भरपूर इस्तेमाल राजकीय और सहायता प्राप्त इंटर कॉलेजों में किया जा सकेगा।माध्यमिक शिक्षा मंत्री महबूब अली ने बताया कि हर साल बेहतर कार्य करने वाले शिक्षकों को राष्ट्रीय और राज्य अध्यापक पुरस्कार से नवाजा जाता है। अभी तक इन्हें मात्र दो साल ही सेवा विस्तार दिया जाता है। सरकार चाहती है कि इन्हें कम से कम पांच साल का सेवा विस्तार दिया जाए ताकि इनके अनुभवों का पूरा लाभ छात्रों को मिल सके। प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा मनोज कुमार सिंह कहते हैं कि सीबीएसई के राज्य व राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त शिक्षकों को पहले से ही पांच साल का सेवा विस्तार मिल रहा है। इसी आधार पर राज्य में भी यह व्यवस्था लागू करने का विचार है। मुख्यमंत्री को इस संबंध में प्रस्ताव भेजा जा चुका है और जल्द ही कैबिनेट से मंजूरी की तैयारी है। उन्होंने कहा, पांच साल सेवा विस्तार का लाभ अगले साल पुरस्कार पाने वाले शिक्षकों को मिलेगा।

1 comment:

  1. 5 saal badhane ke bajaai km aur krne chahiye, jis se berojgaro ko mauka mil sake,

    ReplyDelete