Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Friday, 19 September 2014

2498 अनुदेशकों की होगी भर्ती

  • अगले एक माह में जारी होंगे विज्ञापन, मार्च 2015 तक पूरी होगी भर्ती प्रक्रिया
  • 2498 अनुदेशकों की होगी भर्ती
  • आईटीआई शिक्षकों के प्रशिक्षण शिविर में प्रमुख सचिव ने दी जानकारी
लखनऊ। प्रदेश में शुरुआती स्तर की तकनीकी शिक्षा को बेहतर करने के लिए प्रदेश सरकार 2498 अनुदेशकों की भर्ती करेगी। ये जानकारी व्यावसायिक शिक्षा व कौशल विकास विभाग के प्रमुख सचिव भुवनेश कुमार ने दी। वे शुक्रवार को टीसीएस व सीआईआई की ओर से आईटीआई शिक्षकों के लिए आयोजित दो दिवसीय प्रशिक्षण शिविर को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।
भुवनेश ने बताया कि नई भर्तियों के लिए अगले एक माह में विज्ञापन जारी होगा और मार्च 2015 तक भर्तियां पूरी कर ली जाएंगी। आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। इसके लिए सॉफ्टवेयर तैयार किए जा रहे हैं। साथ ही और भर्तियों के लिए सरकार से अनुमति मांगी गई है, जिस पर दिसंबर तक अनुमति मिलने की उम्मीद है। इससे पहले कुमार ने बताया कि पिछले दो साल में सरकार ने प्रदेश में आईटीआई की 46,600 सीटे बढ़ाई हैं। उन्हाेंने कहा कि मौजूदा समय आईटीआई के आधुनिकीकरण का है। रेडियो सुधारने, या पुरानी तकनीक के टीवी, फ्रिज, एसी सुधारने की ट्रेनिंग देकर किसी युवा को रोजगार नहीं दिलाया जा सकता। कोर्स में बदलाव और नई जरूरतों के अनुसार उन्हें ढालने की जरूरत है। टीसीएस के रीजनल हेड जयंत कृष्णा ने कहा कि प्रदेश की वर्कफोर्स स्किल्ड है तो यूपी के विकास के लिए वह गेम चेंजर साबित हो सकती है। टीसीएस सीएसआर के ग्लोबल हेड जॉय देशमुख व सीआईआई यूपी हेड सचिन अग्रवाल ने भी विचार व्यक्त किए। प्रशिक्षण में 100 से अधिक शिक्षक शामिल हुए।


No comments:

Post a Comment