Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Friday, 25 April 2014

शिक्षक भर्ती- आवेदनों की नई फीडिंग पर लगी रोक

फर्जीवाड़ा रोकने के लिए उठाया गया कदम

लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शुरू की गई 72,825 शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया में फर्जीवाड़ा रोकने के लिए नवंबर 2011 के विज्ञापन के आधार पर आए आवेदनों की कंप्यूटर फीडिंग पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गई है। इसके अलावा राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) की अनुमति के बिना जिन आवेदकों ने ड्राफ्ट वापस ले लिए हैं, उनके ड्राफ्ट फिर से जमा नहीं किए जाएंगे। यह भी हिदायत दी गई है कि पुराने विज्ञापन के आधार पर कोई आवेदन नहीं लिए जाएंगे। सचिव बेसिक शिक्षा नीतीश्वर कुमार ने गुरुवार को जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) प्राचार्य और बेसिक शिक्षा अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान यह निर्देश दिए।
सचिव बेसिक शिक्षा ने बताया कि नवंबर 2011 में आए आवेदनों को कंप्यूटर में फीड करने के लिए डायट प्राचार्यों को एससीईआरटी से अनुमति लेनी होगी। उसके बाद ही शेष आवेदनों को फीड किया जा सकेगा। इसी तरह जिन आवेदकों ने ड्राफ्ट वापस ले लिए हैं, उनके ड्राफ्ट फिर से लेने के संबंध में एससीईआरटी बाद में दिशा-निर्देश जारी करेगा। जिलों में आए कुल आवेदन, इनमें से कितने कंप्यूटर में फीड किए गए, कितने आवेदनों का विवरण कंप्यूटर में स्कैन किया गया, आवेदनों के साथ मिले ड्राफ्ट की राशि, ड्राफ्ट वापस लेने वालों की संख्या आदि का ब्यौरा जिस रजिस्टर में दर्ज किया गया है, उस रजिस्टर के आखिरी पन्ने पर डायट प्राचार्य व बीएसए के संयुक्त हस्ताक्षर के साथ शुक्रवार दोपहर तीन बजे तक एससीईआरटी निदेशालय भेजने का निर्देश दिया गया है।
सचिव बेसिक शिक्षा ने बताया कि सभी जिलों को शीघ्र ही नेशनल इन्फॉरमेटिक सेंटर से तैयार किए गए सॉफ्टवेयर उपलब्ध कराए जाएंगे ताकि आवेदनों की डाटा एंट्री को कन्वर्ट करते हुए ऑनलाइन किया जा सके। आवेदनों और टीईटी 2011 के रिजल्ट को ऑनलाइन किया जाएगा, ताकि आवेदक इससे मिलान कर सकें। उन्होंने कहा है कि 27 सितंबर 2011 को शिक्षक भर्ती के लिए जारी शासनादेश के मुताबिक जिलों में शीघ्र ही चयन समिति का गठन कर दिया जाएगा। इस संबंध में डायट प्राचार्यों को शीघ्र ही विस्तृत निर्देश भेजा जाएगा। आवेदन वापस लेने वालों के बारे में फिलहाल कोई निर्णय नहीं किया गया है।

No comments:

Post a Comment