Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Monday, 31 March 2014

कस्तूरबा बालिका विद्यालयों में बढ़ा मानदेय, वार्डेन को 25,000 व फुल टाइम टीचरों को मिलेगा 20,000 महीना

लखनऊ। केंद्र सरकार ने कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों (केजीबीवी) में कार्यरत शिक्षकों और कर्मचारियों का मानदेय बढ़ाने का निर्णय किया है। अब वार्डेन को 25,000 रुपये और फुल टाइम शिक्षक को 20,000 रुपये दिया जाएगा, वहीं पार्ट टाइम शिक्षकों का मानदेय 72,00 से घटाकर 5,000 रुपये करने का निर्णय किया गया है। इसके अलावा केजीबीवी में कार्यरत अन्य सभी कर्मचारियों का मानदेय बढ़ाने का निर्णय किया गया है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अनु सचिव मनजीत कुमार ने इस संबंध में राज्यों को आदेश भेज दिए हैं। बढ़ा मानदेय एक अप्रैल से प्रभावी माना जाएगा।
सर्व शिक्षा अभियान के तहत स्कूल जाने से वंचित छात्राओं को कक्षा 6 से 8 तक मुफ्त शिक्षा देने के लिए कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय खोले गए हैं। उत्तर प्रदेश में 746 स्कूल खुले हुए हैं। इन स्कूलों में छात्राओं को मुफ्त शिक्षा देने के साथ रहने व खाने की व्यवस्था भी की जाती है। स्कूल संचालन के लिए संविदा के आधार पर शिक्षकों व कर्मचारियों को रखा जाता है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने इनके शिक्षकों व कर्मचारियों का मानदेय बढ़ाने का निर्णय किया है।
नई व्यवस्था के तहत वार्डेन 11,000 से 25,000 रुपये, फुल टाइम टीचर 92,00 से 20,000, पार्ट टाइम टीचर 72,00 से 5,000, लेखाकार 6,000 से 10,000, मुख्य रसोइया 46,00 से 6,000, सहायक रसोइया 32,00 से 45,00, चपरासी 32,00 से 55,00 तथा चौकीदार को 32,00 से 55,00 रुपये दिए जाने का निर्णय किया गया है। इसके अलावा हर माह प्रति छात्रा की दर से रख-रखाव मद में दी जाने वाली राशि 900 से 1500, प्रति छात्रा स्टाइपेंड 50 से 100 रुपये करने का निर्णय किया गया है। Source- Amar Ujala

5 comments:

  1. 17140 k sambandh m chunav ayukt ko permission k liye file bheji gayi thi uska kya decision hua,reply.

    ReplyDelete
  2. 17140 k sambandh m chief minister k sign k baad chunav ayukt ko permission k liye file bheji gayi thi uska kya decision hua,reply.

    ReplyDelete
  3. koi order jaari nahi kiya.........Achar sanhita ke baad hi jaari ho payega

    ReplyDelete
  4. Sir plz tell the working hour of part time teacher and full time teacher

    ReplyDelete
  5. पार्ट टाइम अध्‍यापक लगभग 06 घण्‍टे एवं फुल टाइम अध्‍यापक 24 घण्‍टे विद्यालय में रहते है

    ReplyDelete