Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Monday, 27 January 2014

टीजीटी व प्रवक्ता के आवेदन 25 तक-

इलाहाबाद : माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक (टीजीटी) एवं प्रवक्ता (पीजीटी) पदों के लिए आवेदन की तारीख बढ़ा दी है। अब अभ्यर्थी 25 फरवरी तक आवेदन कर सकेंगे। इससे पहले आवेदन की तारीख तीस जनवरी निर्धारित की गई थी। बोर्ड के सदस्य सचिव ललित कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि बोर्ड ने संगीत की परीक्षा को लेकर पैदा हुए भ्रम को भी समाप्त कर दिया है। अब बालक और बालिका वर्ग के लिए अलग-अलग पदों की रिक्तियां निर्धारित कर दी गई हैं। उन्होंने कहा कि यदि किसी ने आवेदन में गायन लिख दिया है और वह वादन की परीक्षा देना चाहता है तो उससे एक प्रार्थनापत्र लेकर इसकी अनुमति प्रदान कर दी जाएगी। उल्लेखनीय है कि पहले बोर्ड ने विज्ञापन में संगीत शीर्षक के साथ ही गायन और वादन की रिक्तियां निकाली थीं। अब गायन और वादन ही रखा है और बालक-बालिका वर्ग भी अलग कर दिया है। पहले की तुलना में रिक्तियां भी बढ़ाई गई हैं। ललित कुमार ने यह भी स्पष्ट किया कि टीजीटी-पीजीटी में यदि किसी ने पहले विज्ञापन के आधार पर ड्राफ्ट बनवा लिया है तो उसे भी स्वीकार किया जाएगा।


No comments:

Post a Comment