Breaking News -
बाल अधिकार अधिनियम 2011- बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2011 का शासनादेश स्कूल चलो अभियान- वर्ष 2015 स्कूल चलो अभियान शासनादेश नि:शुल्‍क यूनीफार्म- वर्ष 2015-16 नि:शुल्‍क यूनीफार्म शासनादेश परिषदीय अवकाश- वर्ष 2015 की अवकाश तालिका एवं विद्यालय खुलने की समयसारि‍णी मृतक आश्रित- मृतक आश्रित सेवा नियमावली अध्‍यापक सेवा नियमावली- अध्‍यापक सेवानियमावली 2014 साक्षर भारत मिशन- समन्‍वयक एवं प्रेरक के कार्य एवं दायित्‍व विद्यालय प्रबन्‍ध समिति- विद्यालय प्रबन्‍ध समिति के कार्य एवं दायित्‍व परिषदीय पाठयक्रम- परिषदीय विद्यालयों का मासिक पाठयक्रम प्राइमरी प्रशिक्षु भर्ती - प्रशिक्षु भर्ती शासनादेश जूनियर भर्ती- जूनियर गणित/विज्ञान भर्ती का शासनादेश शिक्षामित्र - शिक्षामित्र समायोजन का शासनादेश प्रसूति/बाल्‍यकाल - प्रसूति एवं बाल्‍यकाल अवकाश सम्‍बन्‍धी शासनादेश अलाभित/दुर्बल प्रवेश सम्‍बन्‍धी - शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्‍तर्गत 25 प्रतिशत एडमिशन सम्‍बन्‍धी शासनादेश पति/पत्नी HRA शासनादेश - राजकीय सेवा में पति/ पत्नी दोनों के कार्यरत होने पर मकान किराया भत्ता आदेश अमान्य विद्यालय सम्बन्धी शासनादेश - अमान्य विद्यालय बंद करने एवं नवीन मान्यता शर्तो सम्बन्धी शासनादेश UPTET 2011 परीक्षा परिणाम - UPTET 2011 परीक्षा परिणाम का Verification करने के लिए

Friday, 24 January 2014

विगत टी0ई0टी0 परीक्षा के मुकाबले इस बार लाखों अभ्‍यर्थियों ने कराया पंजीकरण, बढ़ाने होगें केन्‍द्र-

इलाहाबाद : राज्य सरकार के लिए इस बार राज्य शैक्षिक पात्रता परीक्षा इस बार चुनौती साबित होने जा रही है। परीक्षा के लिए रिकॉर्ड 11 लाख अभ्यर्थियों के पंजीकरण ने इस बात के संकेत दे दिए हैं कि यह यूपी बोर्ड के बाद शायद दूसरी सबसे बड़ी परीक्षा साबित हो। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय भी यह मानकर चल रहा है कि इस बार प्रशासनिक स्तर पर अधिक जिम्मेदारी निभानी पड़ेगी। बीते साल हुई राज्य शैक्षिक पात्रता परीक्षा में साढ़े सात लाख अभ्यर्थी शामिल हुए थे। इस बार 11 लाख से अधिक अभ्यर्थियों के पंजीकरण में पांच लाख से अधिक आवेदन फार्म भी भर चुके हैं। 28 जनवरी तक आवेदन फार्म जमा किए जाने हैं। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय की सचिव नीना श्रीवास्तव खुद इसकी मानीटरिंग कर रही हैं। रजिस्ट्रार विभागीय परीक्षाएं नवल किशोर ने बताया कि आखिरी तारीख तक अभ्यर्थियों की संख्या आठ लाख तक पहुंच सकती है। इसके बाद तीन दिनों तक आवेदन की त्रुटियों को ठीक कराने का वक्त होगा। इसके बाद ही सही संख्या सामने आ सकेगी। इसके बाद ही केंद्रों के निर्धारण पर फैसला किया जाएगा। हो सकता है कि इस बार केंद्रों की संख्या बढ़ानी पड़े।

पंजीकरण रिकॉर्डतोड़

सबसे अधिक अभ्यर्थी शामिल होंगे परीक्षा में

बढ़ानी पड़ सकती है परीक्षा केंद्रों की संख्या 


No comments:

Post a Comment